मध्य प्रदेश विधानसभा का 3 दिवसीय सत्र 28 दिसंबर से, लव जिहाद पर पेश होगा विधेयक

11/25/2020 5:41:46 PM

भोपाल: मध्यप्रदेश विधानसभा का तीन दिवसीय सत्र 28 दिसंबर से शुरू होगा। 28 से 30 दिसंबर तक चलने वाले इस सत्र में तीन बैठकें होगी। इस दौरान विधानसभाध्यक्ष के निर्वाचन के साथ नवनिर्वाचित विधायकों को शपथ दिलाई जाएगी। साथ ही राज्य सरकार लव जिहाद के खिलाफ विधेयक पेश करेगी। हालांकि कांग्रेस इस सत्र को बढ़ाकर 10 दिन का करने की मांग कर रही है लेकिन सत्र तीन दिन ही रखने की बात कही गई है।

PunjabKesari

राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने सरकार के प्रस्ताव पर विधानसभा का सत्र बुलाने की अनुमति दे दी है। यह सत्र 28 से 30 दिसंबर तक चलेगा। इस सत्र के दौरान विधानसभाध्यक्ष के अलावा उपाध्यक्ष का चुनाव हेागा और हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में निर्वाचित 28 विधायकों को शपथ दिलाई जाएगी। बुधवार को संसदीय कार्यमंत्री गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि 28 से 30 दिसंबर तक चलने वाले इस सत्र में तीन बैठकें होंगी। इस सत्र में कई महत्वपूर्ण सरकारी विधायी कार्य निपटाए जाएंगे।

PunjabKesari

इस सत्र में राज्य सरकार ‘लव जिहाद’ के खिलाफ सख्त कानून बनाने के लिए ‘मध्यप्रदेश धर्म स्वातंत्र्य विधेयक-2020’ पेश कर सकती है। इसी बीच, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं विधायक डॉ. गोविन्द सिंह ने मांग की कि इस सत्र को बढ़ाकर कम से कम 10 दिन का किया जाना चाहिए, ताकि सदस्य अपने-अपने विधानसभा क्षेत्र की समस्याएं रखने के साथ-साथ अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों पर सदन में विस्तृत चर्चा कर सकें।


meena

Related News