जीतू पटवारी ने उदयपुर कांड के हत्यारों को बताया आतंकवादी, बोले- इन्हें फांसी की सजा होनी चाहिए

7/1/2022 4:10:36 PM

खंडवा(निशात सिद्दिकी): मध्यप्रदेश के खंडवा चुनाव प्रचार करने पहुंचे कांग्रेस के तेज तर्रार नेता जीतू पटवारी ने उदयपुर में हुए नरसंहार की निंदा की। उन्होंने कहा कि मेरा और कांग्रेस पार्टी का भी यही स्टेंड है कि ऐसे लोगों को जल्द से जल्द फांसी की सजा होनी चाहिए। उन्होंने कहा की कोई भी धर्म हिंसा करने के लिए नहीं बोलता बल्कि सभी धर्म प्यार मोहब्बत और अमन की बात करते हैं। इस तरह की घटना को मानवीय सद्भावना तो नकारती ही हैं। लेकिन इसको लेकर किसी भी तरह का रहम बर्दास्त से बाहर है। उन्हें फांसी की सजा मिले। वहीं प्रधानमंत्री जी को अशोक गहलोत ने भी कहा है कि देश में अमन शांति बनी रहे इसके प्रयास किये जाने चाहिए। देश में अराजकता फैलाने वालों की कांग्रेस पार्टी निंदा करती हैं। वहीं उदयपुर कांड के आरोपियों को आतंकवादी करार देते हुए कठोर सजा की मांग भी की। 

मध्यप्रदेश में निकाय चुनाव और पंचायत चुनाव के चलते चुनावी माहौल गर्म है। सभी बड़े नेता अपने अपने दल की जीत के लिए पसीना बहाते नजर आ रहे हैं। कांग्रेस के लिए प्रचार करने खंडवा पहुंचे कांग्रेस लीडर और सुखियों में रहने वाले नेता जीतू पटवारी और कुणाल चौधरी ने भाजपा पर खुल कर हमला बोला। इतना ही नहीं जीतू पटवारी ने राजस्थान के उदयपुर में हुए कन्हैया हत्याकांड पर भी खुल कर फांसी की सज़ा की मांग की। कांग्रेस नेता जीतू पटवारी ने भारतीय जनता पार्टी पर आरोप लगते हुए कहा की 2014 के बाद से जब भाजपा सत्ता में आई सभी ने मोदी जी की सरकार को यह सोच कर सत्ता में लायी थी की देश में अमन हो भाईचारा हो तब विकास हो। विकास की सिर्फ बातें ही हैं। अर्थ व्यवस्था एकदम डेमेज हो गई। व्यापार व्यवसाय ख़राब हो गया। बेरोजगारी सिर चढ़ कर बोल रही हैं। जो बातें भाजपा ने 2014 में कहीं वह एक भी पूरी नहीं हुई। 

जीतू पटवारी ने राजस्थान के उदयपुर में हुए कन्हैया हत्याकांड पर बोलते हुए कहा कि मैंने भी कहा हैं और कांग्रेस का भी यहीं स्टैंड है कि कोई भी इस तरह की की आतंकवादी गतिविधियों में लिप्त हो उसे जितनी जल्दी हो  फांसी की सजा मिलनी चाहिए। ये देश राम रहीम और नानक बुद्ध का हैं। सबने एक ही बात कहीं है शांति की , प्यार की, मोहब्बत की, सहिष्णुता की, मानवता की भगवान राम का दिया संदेश केवल एक धर्म का नहीं हैं सभी धर्मों का हैं। कैसा एक बेटा होता है कैसा एक राजा होता है, कैसा एक पति होता हैं। कैसे युद्ध में भी दुश्मन से बात की जाती हैं तो उसकी भी एक मर्यादा होती हैं। इसीलिए राम को मर्यादा पुरषोतम राम कहा जाता हैं। इस तरह की घटना को मानवीय सवेंदना तो नकारती ही हैं। जैसा की राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा और देश के प्रधानमंत्री से भी उन्होंने कहा कि इस करुरता को लेकर किसी भी तरह का रहम बर्दास्त नहीं किया जाएगा। जीतू पटवारी ने उदयपुर में कन्हैया हत्याकांड आरोपियों को आतंकवादी करार देते हुए उन्हें फांसी की सजा देने की मांग की। साथ ही कहा की देश में अमन शांति बने रहे क्योंकि आरोपियों के तार पाकिस्तान से जुड़ रहे हैं। ये जो देश में अराजकता फैलाने का हिस्सा है उसकी कांग्रेस निंदा भी करती हैं।

जीतू पटवारी से जब पूछा गया कि क्या अशोक गहलोत सरकार फेल हो गई हैं तो उन्होंने कहा की यह किसी फैल और पास का विषय नहीं हैं ये विषय इन आतंकवादी बाहरी ताकतों से निपटने का हैं। इसमें दलगत राजनीति नहीं होनी चाहिए। इसमें तेरा मेरा नहीं हो सकता, इसमें कांग्रेस बीजेपी नहीं हो सकता। इसमें हम सब को मिलकर इन आतंकवादी गतिविधियों के खिलाफ खड़ा होना पड़ता है और कांग्रेस इसकी पहल करती हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Related News

Recommended News