DAVV में फिर आया Ragging का मामला, सीनियर छात्रों पर नशे में रैगिंग करने के आरोप, एंटी रैगिंग कमेटी करेगी जांच

5/23/2022 5:22:53 PM

इंदौर(सचिन बहरानी): कोरोना कॉल के पूरे 2 सालों के बाद राज्य और केंद्र सरकार में पूरे भारतवर्ष में लगभग सभी संस्थानों को पूरी तरह ऑफलाइन खोलने और अपने कार्य को करने की छूट दी है। कोरोना कॉल के दौरान शैक्षणिक संस्थानों को भी पूरी तरह ऑनलाइन कर दिया गया था। अब जब ऑफलाइन मोड पर शैक्षणिक संस्थानों की शुरुआत हुई तो विवाद भी सामने आने शुरू हो गए। ताजा मामले में देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के रविंद्र नाथ टैगोर छात्रावास में रैगिंग का बड़ा मामला सामने आया और शिकायत प्रबंधन तक पहुंची है। अब इंतजार है तो इस बात का कि दोषी छात्रों को चिन्हित किया जाए और उनके किए गए कर्मों की सजा उनको विधि संबंध दी जाए।

PunjabKesari

पढ़ाई के साथ साथ विद्यालय और महाविद्यालयों में छोटी मोटी घटनाएं तो रोज होती हैं लेकिन पढ़ाई के दौरान रैगिंग को लेकर सरकार की ओर से कड़े दिशा निर्देश है कि कोई भी सीनियर छात्र अपने जूनियर के साथ रैगिंग ना करें। लेकिन फिर भी सीनियर छात्र अपने जूनियर से कई प्रकार की रैगिंग करते हैं। मिसाल के तौर पर उठक बैठक लगवाना, कपड़े उतरवाना, डांस कराना और मारपीट करना।
देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के रविंद्र नाथ टैगोर छात्रावास में 10 से ज्यादा नए सत्र के छात्रों के साथ पुराने छात्रों ने रैगिंग की है और इसकी शिकायत विश्वविद्यालय प्रबंधन तक पहुंची और विश्वविद्यालय के अधिकारियों ने इसे एंटी रैगिंग कमेटी को फॉरवर्ड कर दिया है। घटनाक्रम को लेकर प्रभारी कुलपति अशोक शर्मा ने विस्तार से मीडिया को जानकारी देते हुए एक कमेटी बनाने की बात कहते हुए जांच होना बताया है।

PunjabKesari

हालांकि मीडिया से बात करते हुए शर्मा ने यह भी कहा कि सामने आई बात में एक बात निकल कर सामने आई कि छात्रों का आपसी विवाद था जिसे रैगिंग के नाम पर आगे बढ़ाया गया है। संस्थानों के शुरू होते ही इस तरह की घटनाओं का प्रकाश में आना और आगे ऐसी घटनाओं का रुकना किस तरह से संभव है तो अशोक शर्मा ने कहा कि एक विशेष दस्ते का गठन तत्काल किया गया है जो कि आकस्मिक छात्रावासों और अन्य संस्थानों का निरीक्षण करेगा और ऐसी घटनाओं पर लगाम लगाने का प्रयास करेगा।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Related News

Recommended News